Stories for kids - सुनहरी सेव देने वाली पेड़।

Stories for kids आज हम जानेगे एक सुनहरी सेव देने वाली पेड़ के बारेमे । 
क बार दो भाई थे जो एक जंगल के किनारे पर रहते थे। बड़े भाई अपने छोटे भाई से बहुत जलता था । एक बार बड़ा भाई खाना खाने के बाद जंगल में चला गया कुछ सुखी लकडिया लाने को। बड़े भाई बाजार में उन सूखे लकड़ियों को बेचने के लिए गया।  पीछे पीछे लकड़ी खोजने के लिए छोटा भाई भी जंगल में गया । छोटा भाई पेड़ को बिना काटे हुए सिर्फ टूटी हुई टहनिया लेके चला आया। पर  बड़ा भाई बहत ही लालची था ।वो एक चमत्कारी पेड़ के पास आया।  पेड़ ने उससे कहा,, कृपा करिये मुझपर , कृपया मेरी शाखाओं को मत काटिए। यदि आप मुझे बख्शते हैं, तो मैं आपको सुनहरी सेब दूंगा। ' ये सुन के बड़े भाई सहमत हुआ।  लेकिन पेड़ ने उसे जितने सेब दिए, उससे उसका दिल नहीं भरा । लालच ने उस पर काबू पा लिया, और उसने पूरे पेड़ को  काटने की धमकी दी, अगर पेड़ ने उसे अधिक सेब नहीं दिए तो उसको पूरा जड़से काट देगा ऐसा उसने पेड़ से कहा। पेड़ को समझ आगया था की ये इंसान बहोत ही लालची किसम का हे। सोने के सेव देने के वजाये पेड़ ने पर स्ने की सुई गिराने लगी। जादुई पेड़, बड़े भाई पर, सैकड़ों छोटी-छोटी सुइया बरसाती रही । बड़े भाई दर्द से रोते हुए जमीन पर लेट गए क्योंकि तेज़ दार सुइयां उसके बदन में चुभने लगती। Stories for kids

इधर बड़े भाई के लोट ने  देख कर छोटा भाई चिंतित हो गया और अपने बड़े भाई की तलाश में चला गया। उसने उसी  पेड़ के पास दर्द में लेटा  भाई को पाया, जिसके शरीर पर सैकड़ों सुईयां थीं। वह अपने भाई के पास गया और प्रत्येक सुई को श्रमसाध्य प्रेम से हटा दिया। उसके समाप्त होने के बाद, बड़े भाई ने उसके साथ बुरा व्यवहार करने के लिए माफी मांगी और बेहतर होने का वादा किया। पेड़ ने बड़े भाई के दिल में बदलाव देखा, और उन्हें सभी सुनहरे सेब दिए, जिनकी उन्हें कभी भी आवश्यकता हो सकती थी। Stories for kids

कहानी का नैतिक
यह दयालु और अनुग्रहशील होना महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह हमेशा पुरस्कृत किया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments